बम्बई अंडरवर्ल्ड की अनसुनी कहानी की वेब सीरिज़

Guns & Thighs





दोस्तों आज का चकाचौंध से भरा मुंबई उस दौर के बम्बई से काफी शांत है जब अंडरवर्ल्ड का राज़ बम्बई की सड़को पर खुनी कोहराम मचा रहा था ! इस माया नगरी के वो दौर में अंडरवर्ल्ड का शिकंजा इस तरह हावी था की एक तरफ तो अपने वर्चस्व की लड़ाईया लड़ते माफियाओ की गैंग वार और दूसरी तरफ हत्याएँ ,फिरौती  एवं लूटपाट डकैती अपनी चरम सीमा पर थी I माफियाओ के इसी   गैंग वार के चलते पनपे छूट भईय्ये गैंग लीडर और  हर किसी की खलीफा बन कर राज़ करने की तमन्ना इस शहर के लोगो को ऐसे घाव दे गयी जिसके घाव आज तक भर नहीं पाए है I  यूँ तो मुंबई अंडरवर्ल्ड पर कई फ़िल्मकारों ने फिल्में बना कर माफियाओ की इस दुनिया को बड़े परदे पर बेपर्दा की है जहां दिखाया है की ये किरदार मुंबई को अपनी माशूका समझ कर अपनी मुट्ठी में रखने की कोशिश करते है और इसे दूसरे हाथ में जाने के डर से खूनी साझीशो को अंजाम देते है ! इसी विषय पर अपनी बातो और अपनी बनाई फिल्मों से हमेशा विवाद में रहने वाले फिल्म निर्माता राम गोपाल वर्मा उस दौर की अंडरवर्ल्ड की दुनिया की कुछ अनसुनी कहानियों को वेब सीरिज़ के जरिये प्रदर्शित कर रहे है ! पिछले माह यू ट्यूब पर " गन्स एंड थीघस (जांघे) " नामक इस वेब सीरिज़ के ट्रेलर को लांच किया है i जिसे अभी तक 32  लाख से ज्यादा बार देखा गया है iहालाँकि कई लोगो को इस वेब सीरिज़ के ट्रेलर में प्रयोग अश्लील भाषा का प्रयोग एवं नग्न अवस्था में दिखाई गयी अदाकारों से आपत्ति है परन्तु इस बात से बेखबर राम गोपाल वर्मा ने इस वेब सीरीज के फिलहाल 4  सीजन जिसमे प्रत्येक सीजन में 10  एपिसोड को अप लोड करने की घोषणा की है i आज इस लेख के माध्यम से इस वेब सीरिज़ की समीक्षा करेंगे साथ ही इस बात को समझेंगे की   क्या वास्तव में वेब सीरिज़ के   नाम और ट्रेलर में प्रदर्शित फूहड़ अथवा अश्लील शब्द और अदाकारों की नग्न अवस्था  अंडरवर्ल्ड की इस अनसुनी कहानी को प्रदर्शित करने के लिए जरूरी थे ?


गन्स एंड थीघस ( बंदूक एवं जांघे )  :


book.jpg


यहां मैं आपको बता दूँ की ऊपर प्रदर्शित चित्र राम गोपाल वर्मा की बुक से उद्दृत है I  दरअसल गन्स एंड थीघस के वेब सीरीज की अलावा एक बुक और इसके बारे ज्यादा जानकारी हेतु एक गन्स एंड थीघस. कॉम नामक वेबसाइट भी बनाई है I हालांकि गन्स एंड थीघस किताब में राम गोपाल वर्मा ने अपनी कहानी का जिक्र किया है की कैसे उन्होंने सी डी की दुकान से बॉलीवुड तक का सफर किया और कैसे उन्हें  एक शख्स जिसका बाद में क़त्ल कर दिया जाता है उससे अंडरवर्ल्ड की अनसुनी बातों का पता चला I साथ ही वेबसाइट पर उन्होंने अपने खुद के अनुभव और सीरीज के जर्मन प्रोड्यूसर मोरिस -एलेग्जेंडर  ग्रोनेमेयर के अनुभवों को साँझा किया है लेकिन  अंडरवर्ल्ड माफियाओ की अनसुनी कहानियो के लिए आपको इस सीरीज के एपिसोड्स का इंतज़ार करना होगा I


यू ट्यूब पर अप लोड किये 6  मिनट के इस ट्रेलर शुरुवात  में राम गोपाल वर्मा लिखते है अंडरवर्ल्ड की अनसुनी कहानी को फिल्मों में कई कारणों से प्रदर्शित न कर पाने के कारण वो इस वेब सीरीज को लाये है I शुरुवात में एक महिला को यह कहते हुए दिखाया है की ये उस दौर की कहानी है जब मुंबई पर एकछत्र राज़ करने वाली डी कंपनी के दाऊद इब्राहिम एवं छोटा राजन एक दूसरे को मारने की शपथ लेकर अलग हुए तो अंडरवर्ल्ड में अस्थिरता हो गयी I  मुंबई का नया किंग बनने की होड़ में मुंबई की सड़को पर खुनी संग्राम हुआ करता था I इसी संघर्ष में उसका बेटा भी मारा गया I


इस ट्रेलर में नग्न अवस्था में एक अदाकारा बिस्तर पर बैठा दिखाया है साथ ही अश्लील गालियों को हर जगह इस्तेमाल किया गया है Iअंतिम में महिला को यह कहते दिखाया है की अंडरवर्ल्ड की दुनिया में सिर्फ दो ही चीज़े चलती है गन्स और सेक्स I इस ट्रेलर में एक डायलॉग को दो बार सुनाया गया है की कैसे उस दौर में माफ़िया बिल्डर , पॉलिटिशियन , फिल्म स्टार एवं पुलिस के लोग एक दूसरे के बिस्तर में घुसते थे I  कुछ दृश्य  विचलित करने वाले भी है जिसमे एक हत्या के दौरान एक बच्चे के मुँह को खून से सना दिखाया है I साथ ही ट्रेलर महात्मा गांधी से लेकर डॉन दाऊद इब्राहिम एवं ख़ूँख़ार अपराधी पाब्लो एस्कोबार के कथनो से अप्टा पड़ा है I


आलोचना :


माफियाओ पर कई चर्चित फिल्म सत्या , शूल , कंपनी और डी जैसे फिल्म बना चुके राम गोपाल वर्मा के इस वेब सीरीज पर कई लोगो ने आपत्ति दर्शायी है I दरअसल ये भी सत्य है की आज कल के दौर में हॉलीवुड एवं पाश्चात्य देशो की तुलना करते हुए हमारे देश में भी फिल्मों एवं कई सीरीज का निर्माण किया जा चूका है अथवा जारी है परन्तु अभी भी भारतीय संस्कृति के हिसाब से इस  ट्रेलर में अश्लील शब्दों का प्रयोग एवं नग्नता अस्वीकार्य है I  हालांकि राम गोपाल वर्मा भी अपने कथनो से विवादों में रह चुके है उनकी महिलाओ पर की गयी टिप्पणियां अशोभनीय है इसी कारण दर्शकों के एक तबके को यह ट्रेलर रास नहीं आ रहा हैI


ये भी एक कड़वी सच्चाई है की आज कल की खबरों ,फिल्मों एवं  गानों को भारतीय दर्शकों के ईडीओटिक गेस्टर (मानसिकता ) पर तैयार किया जाता है क्योंकि आप इसे नफरत करे या पसंद करे आप इसे देखेंगे अवश्य I  इसी कारण करोड़ो  लोगो की आबादी वाले इस देश में ढिंचक पूजा के गाने ट्रेडिंग कर रहे होते है I  इस तरह की चीज़ो को देखना न देखना दर्शकों के स्वविवेक पर निर्भर करता है I


दोस्तों आप इस वेब सीरीज के बारे क्या सोचते है अथवा इस लेख के बारे में  आप अपने विचार नीचे कमेंट के माध्यम से अवश्य दे ! साथ ही इस जानकारी को शेयर कर अधिक लोगो में पहुंचाने में मदद करे ! साथ ही इसी तरह की जानकारी भविष्य में भी प्राप्त हो इसलिए हमारे पेज को सब्सक्राइब अवश्य करें I

Comments

  1. Jignesh Awasthi7 July 2017 at 23:22

    Just dekha trailer .. Bhut vulgar He

    ReplyDelete
  2. Bhai as one last ki line acchi likhi h...really indian ka idiotic gesture h

    ReplyDelete
  3. Maine bhi Abhi dekha trailer .Jabardast likha h aapne sir !!

    ReplyDelete
    Replies
    1. He is awesome at this writing.

      Delete
  4. Rohitash Prajapati8 July 2017 at 05:27

    Last line ultimate limit Iikhi he

    ReplyDelete
  5. Web series theme story acchi h but vulgar nahi banana chaiye tha

    ReplyDelete
  6. I have seen already ..but you write very well specially the last para ..

    ReplyDelete
  7. maine bhi dekha tha but paaji aakhir para. kamaal kya khoob likha hai

    ReplyDelete
  8. Thanks to All for the comments!!

    ReplyDelete
  9. He is crazy man ..

    ReplyDelete
  10. i agree the series is vulgar but so is game of thrones series ,people love watching it so why cant they accept this.Truth is people want to do all the wrong things but are scared to bring them in public.

    ReplyDelete
  11. Because of people like us the senseless are getting promoted.

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

एक राष्ट्र दो ध्वज : जम्मू कश्मीर की राह पर कर्नाटक राज्य

जीवन के प्रति नज़रिया