किम जोंग को ना यू एन का डर ना अमेरिका का



north korea.jpg


दोस्तों  दुनिया में कई तरह के  क्रूर  एवं जल्लाद शासक हुए है जिनसे  आप सभी  अच्छी तरह से अवगत है ! तानाशाह का विचार आते ही सर्वप्रथम आप के दिमाग में हिटलर , मुसोलोनी अथवा सद्दाम जैसे शासक आते है आज ये सब तानाशाह दुनिया में नहीं है परन्तु आज भी दुनिया में एक ऐसा देश है जो अब तक के सबसे क्रूर शासक के राज में उसके जुल्मो को सेह रह रहा है ! आज हम बात कर रहे है उत्तर कोरिया के  सनकी तानाशाह और सबसे कम उम्र के शासक  किम जोंग उन की जो आये दिने परमाणु हथियार एवं बैलस्टिक मिसाइलों  का परीक्षण कर दुनिया का सरदर्द बना हुआ है ! सयुंक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् के मना करने और अमेरिका के बार बार चेतावनी देने के बावजूद भी वो आये दिन मिसाइलों का परीक्षण करता है ! पिछले तीन सप्ताह में तीन बार बैलस्टिक मिसाइल का परीक्षण कर चूका है एवं इस वर्ष अब तक 9 बार मिसाइल परीक्षण कर चूका है ! इस सनकी शासक की वजह से दुनिया एक बार फिर तीसरे युद्ध के मुहाने पर खड़ी है ! आखिर कौन है हे ये सनकी तानाशाह और क्यों नहीं है इसको सयुंक्त राष्ट्र संघ एवं अमेरिका से डर !  आइये जानते है इस जल्लाद एवं सनकी तानाशाह के बारे में !



 kingf.jpg

किम जोंग उन का जन्म 8 जनवरी 1983  को हुआ है !  वो  किम जोंग इल (1941–2011) का  पुत्र हैं। और किम सुंग (1912–1994) का पोता है। इसने 28 दिसम्बर 2011 को अपने आपको तानाशाह बना लिया और उसकी आधिकारिक घोषणा भी कर दी।

किम के प्रारंभिक जीवन से जुड़ी सभी जानकारी केवल उत्तर कोरिया के तानाशाह द्वारा या फिर उन लोगों के द्वारा ही मिली है, जो उसे विदेशों में देखें हैं। जैसे कि स्विट्ज़रलैंड के विद्यालय में किम के द्वारा पढ़ने की घटना। उत्तर कोरिया के विभाग वाले किम के जन्म की तारीख 8 जनवरी 1982 है, बताते हैं। जबकि दक्षिण कोरिया के आधिकारिक विभाग इसे और बाद में है बोलता है। डेनिस रॉडमन ने कहा कि उसका जन्म 8 जनवरी 1983 को हुआ था और वे किम से सितम्बर 2013 को मिले थे। यह अपने तीन भाइयों में से दूसरा है।

जापानी समाचार-पत्र में सबसे पहले प्रकाशित हुए एक सूचना के अनुसार किम स्विट्ज़रलैंड के ही एक विद्यालय में पढ़ाई किया था। वह उस विद्यालय में "चोल-पक" या "पक-चोल" नाम से 1993 से लेकर 1998 तक था ! जो एक शर्मीले लड़के व बास्केटबाल प्रेमी के रूप में वहाँ पढ़ाई कर रहा था।


जुल्मों की कहानियाँ:

लोगो द्वारा शर्मिला एवं भावुक बताए जाने वाले  किम जोंग का  सत्ता हासिल होते ही इस तरह जल्लाद   बन जाना  किसी को हतप्रभ कर देगा लेकिन इस तानाशाह की सनक जग जाहिर है  ; हालाँकि नार्थ कोरिया में बाहरी देशो के समाचार पत्रों एवं चैनेलो पर प्रतिबंध है परन्तु किम जोंग  द्वारा सताए गए एवं नार्थ कोरिया से भागे लोग ने कई चौकाने वाले खुलासे किये है ! जिसमे इस तानाशाह ने क्रूरता की हदें पार कर दी है !

2011  में सत्ता सँभालने के बाद अपने रक्षा प्रमुख को मोटार्र दाग कर मरवा दिया  उस पर आरोप था की वो एक मीटिंग में सोता हुआ पाया गया था ! इसके पश्चात खबर आई की किम ने अपनी भुआ को जहर देकर मरवा दिया जिसने अपनी  पति की मौत का सार्वजनिक विरोध किया था ! किम ने उसके पति को 120 खूंखार कुत्तो के आगे डाल कर मरवा दिया था !  

किम जोंग ने अपनी गर्लफ्रेंड जो की गायिका थी उसे एवं उसके म्यूजिकल ग्रुप के सदस्यों  को गोली से उड़वा दिया था क्यूंकि उन पर आरोप था की वो ग्रुप की आड़ में पोर्न वीडियोग्राफी का काम करते है ! यही नहीं किम ने उन तमाम लोगो को मार दिया जो उसके पिता के जनाज़े में रोये नहीं थे ! महज़ 14साल की उम्र मैं शराब और सिगरेट का शौक करने वाला यह तानाशाह बहुत ही अय्याश है एवं अपने को हमेशा  औरतो के बीच गिरे रहना पसंद करता है ! किम ने अपने खिलाफ उठी हर आवाज़ को दबा दिया यही नहीं उसने अपने चाचा जेम्सन को भी मरवा दिया ! किम जोंग ने वर्ष 2014  में अपने  सेना के  करीब 50अधिंकारियो को मरवा दिया जो उसके पडोसी देश दक्षिण  कोरिया जो की उसका शत्रु देश है उसके चैनल को देख रहे थे ! किम जोंग ने सत्ता सँभालने   के पश्चात  करीब 70 लोगो को मौत के घाट उतार दिया है !


उत्तर कोरिया के अजीबो गरीब कानून :

कई लोग उत्तर कोरिया को धरती का नर्क बताते है ! किम ने अपने शासन को बनाए रखने के लिए  जनता पर कई अजीबो गरीब कानून थोपे है !  उनमे से कुछ प्रमुख नीचे दर्शाये गए है !

  • उत्तर कोरिया में बाल अपने हिसाब से नहीं रख सकते है ! यह सरकार ने 28  हेयर कट स्टाइल जारी किये है ! जिसमे से पुरुषो के लिए 10  एवं महिलाओ के लिए 18  हेयर स्टाइल है !  उन लोगो को इसी हेयर स्टाइल के मुताबिक अपने बाल रखने होते है ! ताज़्जुब की बात है की किम खुद इस नियम को फॉलो नहीं करता ! वो अपना हेयर स्टाइल रखता है ! जिसे कोई दूसरा नहीं रख सकता ; सरकार के इस नियम की अनदेखी में सजा का प्रावधान है ! बालो को स्पाइक्स रखना प्रतिबन्ध है यहां I
  • उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग है परन्तु यहां कौन रहेगा ये सरकार तय करती है ! सरकार द्वारा अनुमति पत्र लोगो में जारी किया जाता है ! यहां सिर्फ अमीर लोग और सरकार के प्रति वफादार लोगो को ही रहने की अनुमति मिलती है ! अनुमति पत्र के बिना पाए जाने वाले लोगो को सजा का प्रावधान है !
  • दुनिया को महज़ दिखाने के लिए किम ने उत्तर कोरिया को एक गणत्रांतिक देश घोषित किया है ! यहां प्रति 5 वर्ष  में राष्ट्रपति  का चुनाव  होता है ! परन्तु  उम्मीदवार   सिर्फ किम जोग  ही रहता है ! जनता  को बैलेट पत्र द्वारा की गयी  चुनाव प्रक्रिया में भाग लेंना होता है !
  • टेलीविज़न पर प्रतिबंध - नार्थ कोरिया में सरकार द्वारा प्रायोजित मात्र 3 चैनल ही आप देख सकते है ! इस चैनलो पर सरकारके मर्ज़ी के हिसाब से खबरे एवं कार्यक्रम ही दिखाये जाते है ! सरकार नार्थ कोरिया के अलावा दुनिया में हो रही हलचल एवं घटनाओ से जनता को अनभिज्ञ रखती है यही नहीं रेडियो का सम्प्रेषण भी सरकार ही करती है !
  • इंटरनेट आज के दौर में प्रगति का एक प्रमुख कारण है ! नार्थ कोरिया में  इंटरनेट है परन्तु सिर्फ नाम के वास्ते यहां सभी गूगल फेसबुक एवं सोशल मीडिया प्लेटफार्म  पर प्रतिबंध है ! सरकार द्वारा जारी कुछ ही वेबसाइट पर आप सर्फ कर सकते है और यहां पोर्न देखना भी कानूनी अपराध है !
  • यहां की शिक्षा में सिर्फ नार्थ कोरिया का इतिहास एवं किमजोंग पर लिखी किताबो को ही पढ़ाया जाता है !  यहां के लोग अन्य दुनिया के साहित्य एवं इतिहास से कोसो दूर है !
  • यहां के लोगो अगर सरकार की खिलाफत करते है ! तो उसे देशद्रोही माना जाता है !  यही नहीं उसकी तीन पीडियो तक के सदस्यों को भी देशद्रोही माना जाता है एवं सज़ा दी जाती है !

किम द्वारा थोपे गए कानूनों को लोग झेल रहे है ! हालाँकि यु एन (सयुंक्त राष्ट्र संघ ) भी इस कानूनों को हटाने के लिए प्रयास कर रहा है  परन्तु किम जोंग के रहते यह संभव नहीं है !



वैश्विक युद्ध का बढ़ता खतरा :

आये दिन परमाणु हमले की धमकी देना और नार्थ कोरिया का परमाणु संपन्न देश बन जाना दुनिया के बाकि देशो एवं संयुक्त राष्ट्र संघ के चिंता का प्रमुख कारण बन गया है ! नार्थ कोरिया में अब तक तीन बार परमाणु  बम परीक्षण कर चूका है !   अमेरिका एवं सयुंक्त राष्ट्र  सुरक्षा परिषद की चेतावनी के बावजूद किम सरकार द्वारा  हर सप्ताह बैलेस्टिक  मिसाइल का परीक्षण करना आम बात हो गयी है ! यही नहीं किम जोंग ने यह भी दावा किया है की उसके देश के पास हाइड्रोजन बम जो की परमाणु बम से भी कई अधिक शक्तिशाली होता है उसका परीक्षण कर लिया है ! इसकी पुष्टि पड़ोसी देश जापान एवं दक्षिण कोरिया ने भी की क्यूंकि इस परिक्षण के पश्चात 5.1 तीव्रता का भूकंप नार्थ कोरिया में आया जिससे पड़ोसी देश भी प्रभावित हुए लेकिन अमेरिका ने किम के इस दावे को खोखला  बताया !


किम परमाणु परीक्षण कर अमेरिका को चेतावनी देता आया है ! हालाँकि अमेरिका  भी बार बार नार्थ कोरिया को महज़ चेतावनी देता आया है जिसके दो प्रमुख कारण है क्यूंकि युद्ध की स्तिथी में नार्थ कोरिया अपने शत्रु एवं पडोसी देश  साउथ कोरिया की राजधानी सीओल को सर्वप्रथम निशाना बना सकता है जो की उससे महज़ 35 मील की दुरी पर है ! सीओल का अंतराष्ट्रीय महत्व  बहुत ज्यादा है ! यहां से कई देशो के बीच व्यापार होता है  और दूसरा युद्ध की परिस्थति में चीन का नार्थ कोरिया का साथ देना ! नार्थ कोरिया एवं चीन के बीच हुए  समझौते में अगर कोई अन्य देश इन पर आक्रमण करेंगे तो ये देश आपस म एक दूसरे की मदद करेंगे !

अमेरिका के बार बार चेतवानी और सयुंक्त राष्ट्र के लगातार नियमो का उल्लंघन कर रहे इस  तानाशाह  की एक सनक दुनिया को विश्व युद्ध के बीच ला खड़ा सकती है !

हालांकि भारत के नार्थ कोरिया के साथ सम्बन्ध अच्छे है परन्तु नार्थ कोरिया के परमाणु परीक्षण का अन्य देशो की तरह भारत  भी विरोध करता आया है ! परन्तु युद्ध की स्तिथी में भारत को अन्य देशो के साथ द्विपक्षीय संबंधो को बनाये रखने के लिए भूमिका निभानी पड़ सकती है !


दोस्तों यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इसे शेयर कर बाकि लोगो में पहुँचाये  और अपने विचार नीचे कमेंट के माध्यम से अवश्य दे !!!!!

Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

बम्बई अंडरवर्ल्ड की अनसुनी कहानी की वेब सीरिज़

एक राष्ट्र दो ध्वज : जम्मू कश्मीर की राह पर कर्नाटक राज्य

जीवन के प्रति नज़रिया